Sunday, September 5, 2010

धोनी कॉर्बेट नेशनल पार्क के अवैतनिक वन्य जीव प्रतिपालक


वन्य जीवो के संरक्षण के प्रयास अब कुछ तेज़ होते दिखाई दे रहे हैं.  भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अब बाघों को बचाने के लिए ब्रांड अम्बेसडर के रूप में काम करेंगे. यह जानकारी धोनी के राज्य के मुख्यमंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के साथ रविवार को हुयी वार्ता के बाद मिली है. क्रिकेट स्टार धोनी अगले वर्ष कॉर्बेट के प्लातिनुम जुबली कार्यक्रम में भी भाग लें सकते हैं. यह धोनी के लिए कोई उपलब्धि है या नहीं यह तो मै नहीं  जानता पर इतना तो तय है क़ि धोनी जैसे क्रिकेटर के जुड़ने से वन्य जीवों के प्रति लोगों में जागरूकता अवश्य ही बढ़ेगी. और इस खबर से वन्य जीव प्रेमियों को शकून जरूर पहुंचा होगा. मेरी जानकारी के मुताबिक इससे पहले फिल्म स्टार टाम अल्टर ने यहाँ वन्य जीवों के प्रति लोगों को जागरूक करने में अपनी भूमिका निभाई है.
     धोनी बाघों के ब्रांड अम्बेसडर तक ही सीमित नहीं होंगे. बल्कि उन्हें उत्तराखंड का अवैतनिक वन्य जीव प्रतिपालक भी बनाया गया है. आशा है राज्य सरकार की बाघों को बचाने की यह पहल कॉर्बेट के साथ साथ देश के वन्य जीवों के लिए लाभकारी साबित होगी.

3 comments:

  1. अच्छी जानकारी इसके लिए आपको धन्यवाद
    हमारे ब्लॉग पर आपका स्वागत है।

    मालीगांव
    साया
    लक्ष्य

    ReplyDelete
  2. dhauni ke ambesdor banne se yuva nishchit roop se vanya jeevon ke prati aakarshit honge aur jaagrookta hogi. dhauni se bhi asha hai ki vah es aor kaarya kr vanya praniyon ke prati apna kuchh amulya samay denge.

    ReplyDelete
  3. यह वास्तव में एक बहुत आच्छा ब्लॉग है, मैं सभी कॉर्बेट नेशनल पार्क भारत(GTI Travels Pvt. Ltd.) टीम की ओर से शुक्रिया अदा करना चाहूँगा.

    ReplyDelete